Solan News: गढ़खल में जल्द लगेगी ट्रैफिक लाइटें, कसौली को पर्यटन सीजन में जाम से मिलेगी राहत

Solan News: पर्यटक नगरी कसौली में पर्यटन सीजन के चलते कानून व्यवस्था और अन्य गतिविधियों को लेकर एसडीएम कसौली नारायण सिंह चौहान की अध्यक्षता में एक बैठक आयोजित की गई। बैठक में पर्यटकों की बढ़ती संख्या के चलते बढ़ती जाम की समस्या, गारवेज, टीसीपी, पानी, और कूड़ा प्रबंधन के अलावा अन्य समस्याओं को लेकर चर्चा हुई तथा उनके निपटारे के लिए आगामी रूपरेखा बनाई गई।

Solan News: गढ़खल में जल्द लगेगी ट्रैफिक लाइटें, कसौली को पर्यटन सीजन में जाम से मिलेगी राहत
कसौली को पर्यटन सीजन में जाम से मिलेगी राहत

Solan News: पर्यटन नगरी कसौली में पर्यटन सीजन और गढ़खल में लगने वाले जाम से जल्द छुटकारा मिलेगा। गढ़खल में यातायात के सुचारु प्रबंधन के लिए जल्द ही ट्रैफिक लाइटें लगाई जाएंगी। इससे पांच ओर से आने वाली सड़कों का जंक्शन प्वाइंट गढ़खल बाजार में लगने वाले यातायात जाम से निजात मिलेगी। समर सीजन के चलते कसौली जाने वाले पर्यटकों के सैंकड़ों वाहनों से गढ़खल बाजार थम जाता है। स्थिति यह होती है कि पैदल चलना भी मुश्किल हो जाता है। ऐसे में प्रशासन ने इस समस्या से निपटने के लिए कारगर कदम उठाने शुरू कर दिए हैं।

बैठक में विभिन्न विभागों के अधिकारी, पंचायत जनप्रतिनिधि, गढ़खल व्यापार मंडल व कसौली होटलियर्स के पदाधिकारियों ने भाग लिया। बैठक में मुख्य रूप से गढ़खल व कसौली में यातायात प्रबंधन, सड़क किनारे अनाधिकृत पार्किंग व अतिक्रमण, सभी तरह का प्रदूषण, क्षेत्र में पानी की कमी, टीसीपी व 118 का उल्लंघन, जंगल में आग लगने की घटनाएं, कचरा संग्रहण एवं निपटान, अवैज्ञानिक निर्माण गतिविधियां आदि मुद्दों पर विस्तृत चर्चा हुई।

बैठक में निर्णय लिया गया कि सबसे पहले गढ़खल में ट्रायल बेस पर ट्रैफिक लाइटें लगाकर देखा जाएगा कि इससे जाम की समस्या में सुधार आता है या नहीं। वहीं कसौली छावनी में पार्किंग में फीस वसूलने की बजाय बस स्टैंड से पीछे की ओर एक किमी लंबी लाइनें लगाकर पार्किंग फीस वसूली को लेकर भी जनप्रतिनिधियों ने सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि पार्किंग की जगह सड़क पर वाहनों की कतार लगाकर फीस वसूलना कितना सही है। इस पर एसडीएम ने कहा कि इस संबंध में छावनी प्रशासन से बात की जाएगी। गढ़खल व कसौली में पर्यटकों की सुविधा के लिए साइन बोर्ड लगाने के लिए भी एसडीएम ने निर्देश दिए। वहीं उन्होंने कहा कि पर्यटकों की अधिक आवाजाही के चलते जाम से निपटने के लिए भारी वाहनों को लेकर भी दिशा निर्देश जारी किए जाएंगे।

सड़क किनारे वाहन पार्क करने वालों के काटे जाएंगे चालान
एसडीएम ने कहा कि गढ़खल बाजार में सड़क किनारे पार्क किए जाने वाले वाहनों के चालान किए जाएंगे। वहीं सड़क पर अतिक्रमण पर भी प्रशासन कार्यवाही करेगा। उन्होंने होटलों व पंचायतों के कूड़े-कचरे के प्रबंधन व निष्पादन के लिए भी प्रदूषण बोर्ड को निर्देश दिए। प्रदूषण बोर्ड परवाणू के आरओ अनिल कुमार ने कहा कि हाल ही में गढ़खल-सनावर पंचायत में चल रहे डंपिंग साइट को बंद करवाया गया था। वहीं होटलों में भी समय-समय पर निरीक्षण कर नियमों का उल्लंघन करने वालों पर कार्यवाही की जाती है। पानी की कमी को लेकर भी लोगों ने मांग उठाई। इस पर एसडीएम ने कहा कि किसी की भी जमीन में पेयजल स्रोत से पानी के लिए मना नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि कसौली क्षेत्र में बिना विभाग की अनुमति के चल रहे पेयजल टैंकरों पर भी कड़ी कार्रवाई की जाएगी। सरकार की प्राथमिकता लोगों को पानी की विकराल समस्या से निजात दिलानी है।

होम स्टे के नाम पर चला रहे होटल
बैठक में टीसीपी व धारा 118 के उल्लंघन का मामला भी उठा। जनप्रतिनिधियों ने कहा कि होम स्टे योजना हिमाचलियों के लिए थी, लेकिन बाहरी राज्यों के लोग भी यहां होम स्टे चला रहे हैं। उन्होंने कसौली क्षेत्र में धारा 118 के तहत घर बनाने के लिए प्रदेश सरकार से अनुमति ली है, लेकिन अधिकांश विलाओं में होम स्टे व गेस्ट हाउस चल रहे हैं। इससे प्रदेश सरकार को राजस्व देने वाले होटलों को भी नुकसान हो रहा है। वहीं होम स्टे के नाम पर कई-कई कमरों का होटल चलाने वालों से सरकार को राजस्व भी नहीं मिल रहा है। वहीं पर्यटन विभाग के पास उन लोगों पर भी कोई नियंत्रण नहीं है जो केंद्र सरकार की अनुमति से बीएंडबी चला रहे हैं। इस पर हॉटलियर्स का कहना था कि ऐसे लोगों पर भी विभाग नजर रखें, जिन्होंने घर बनाने के लिए प्रदेश सरकार से धारा 118 की अनुमति ले रखी है। लेकिन वो उसमें होम स्टे, गेस्ट हाउस व बीएंडबी चला रहे हैं।

बैठक में तहसीलदार कसौली जगपाल सिंह, डीएसपी परवाणू प्रणव चौहान, जल शक्ति विभाग के एसडीओ भानु उदय, विद्युत बोर्ड कसौली के एसडीओ विनीत भारद्वाज, कसौली हॉटलियर्स संघ के अध्यक्ष राजेंद्र चोपड़ा, अमरजीत गिल, आईएस चड्डा, प्रेस क्लब कसौली के अध्यक्ष मनमोहन वशिष्ठ, नाहरी पंचायत प्रधान हिमांशु गुप्ता, गनोल पंचायत प्रधान संतोष, उपप्रधान रणदीप राणा, बीडीसी सदस्य नरेश ठाकुर, गढ़खल-सनावर की प्रधान मोना भारद्वाज, उपप्रधान विपिन गुप्ता, सनवारा पंचायत प्रधान दिनेश ठाकुर, गुलहाड़ी के उपप्रधान दिनेश गोवर्धन, गढ़खल व्यापार मंडल से विकास बहल, राहुल गुप्ता, बंटी ठाकुर, कृष्ण ठाकुर, रमाडा होटल के जीएम दीपक गुप्ता, लोनिवि के एसडीओ विशाल भारद्वाज आदि अनेकों मौजूद रहे।