ISRO ने सूर्य की वैज्ञानिक खोज के लिए Aditya-L1 Mission को सफलता पूर्वक किया लॉन्च

Aditya-L1 Mission : लॉन्चिंग की तारीख से करीब 125 दिन का सफर तय करके आदित्य एल-1 अपने तय स्थान पर पहुंचेगा। इसके बाद इसरो को अपनी खोज के डेटा भेजेगा।

प्रजासत्ता नेशनल डेस्क|
Aditya-L1 Mission: भारतीय अंतरिक्ष संस्थान(ISRO) ने सूर्य की वैज्ञानिक खोज के लिए आदित्य एल-1 सोलर मिशन को सफलता पूर्वक लॉन्च किया है। सूर्य से जुड़ें रहस्यों का पता लगाने के लिए इस सोलर मिशन को Aditya-L1 Mission के तहत शनिवार को सुबह ठीक 11 बजकर 50 मिनट पर श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से आदित्य एल-1 ने उड़ान भरी। हाल ही में चंद्रयान 3 की सफल लॉन्चिंग और चांद पर सफल लैंडिंग के बाद इसरो के वैज्ञानिकों की यह दूसरी सफलता है।

इसरो के अधिकारियों ने बताया कि जैसे ही 23.40 घंटे की उलटी गिनती समाप्त हुई, 44.4 मीटर लंबा ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (पीएसएलवी) चेन्नई से लगभग 135 किलोमीटर दूर श्रीहरिकोटा स्थित अंतरिक्ष केंद्र से सुबह 11.50 बजे निर्धारित समय पर शानदार ढंग से आसमान की तरफ रवाना हुआ। उल्लेखनीय है कि पिछले महीने 23 अगस्त को चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव क्षेत्र पर सॉफ्ट लैंडिंग में सफलता प्राप्त कर भारत ऐसा कीर्तिमान रचने वाला दुनिया का पहला और अब तक का एकमात्र देश बन गया है।

125 दिन का सफर तय करके पूरा होगा Aditya-L1 Mission

जानकारी के मुताबिक आज यानी लॉन्चिंग की तारीख से करीब 125 दिन का सफर तय करके Aditya-L1 अपने तय स्थान पर पहुंचेगा। Aditya-L1 सूर्य के बाहरी वातावरण का अध्ययन करेगा। आदित्य-एल1 न तो सूर्य पर उतरेगा और न ही इसके करीब जाएगा। इसके बाद इसरो को अपनी खोज के डेटा भेजेगा।

Aditya-L1 Solar Mission
ISRO ने सूर्य की वैज्ञानिक खोज के लिए Aditya-L1 Mission को सफलता पूर्वक किया लॉन्च

आदित्य एल1 को सूर्य परिमंडल के दूरस्थ अवलोकन और पृथ्वी से लगभग 15 लाख किलोमीटर दूर ‘एल1’ (सूर्य-पृथ्वी लैग्रेंजियन बिंदु) पर सौर हवा का वास्तविक अवलोकन करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। आदित्य एल1 सात पेलोड ले जाएगा, जिनमें से चार सूर्य से प्रकाश का निरीक्षण करेंगे। इसरो ने कहा, इससे सौर गतिविधियों को लगातार देखने का अधिक लाभ मिलेगा।
Aditya-L1 Mission का नेतृत्व कर रहे डॉ.शंकर सुब्रमण्यम
मिशन का नेतृत्व डॉ.शंकर सुब्रमण्यम कर रहे हैं। डॉ. सुब्रमण्यम इसरो के काफी सीनियर साइंटिस्टों में से एक हैं। उन्होंने अभी कर इसरो के कई अहम मिशनों में अपना खास योगदान दिया है। इतना ही नहीं डॉ. सुब्रमण्यम ने चंद्रयान 1 और चंद्रयान 2 में अहम जिम्मेदारी निभाई थी।

इस जटिल मिशन के को लेकर इसरो ने कहा कि “सूर्य सबसे निकटतम तारा है और इसलिए अन्य की तुलना में इसका अधिक विस्तार से अध्ययन किया जा सकता है। इसरो ने कहा कि सूर्य का अध्ययन करके आकाशगंगा के साथ-साथ अन्य आकाशगंगाओं के तारों के बारे में भी बहुत कुछ सीखा जा सकता है। सूर्य पर कई विस्फोटक घटनाएं होती रहती हैं जिससे यह सौर मंडल में भारी मात्रा में ऊर्जा छोड़ता है। यदि ऐसी विस्फोटक सौर घटनाएं पृथ्वी की ओर निर्देशित होती हैं, तो यह पृथ्वी के निकट अंतरिक्ष वातावरण में विभिन्न प्रकार की गड़बड़ी पैदा कर सकती हैं।”

यह पहली बार है जब भारत ने अंतरिक्ष में सूर्य की निगरानी करने के लिए कोई सैटेलाइट भेजा है। अमेरिका, यूरोप, जापान के कई उपग्रहों के बाद, बहुत कम देशों ने ही सूर्य की खोज की है। भारत एक मील का पत्थर बनाने जा रहा है।

Aditya-L1 Solar Mission
ISRO ने सूर्य की वैज्ञानिक खोज के लिए Aditya-L1 Mission को सफलता पूर्वक किया लॉन्च

राष्ट्रपति द्रोपती मुर्मू ने भारत के प्रथम सौर मिशन, Aditya-L1 Mission के सफल प्रक्षेपण के लिए इसरो के वैज्ञानिकों और इंजीनियरों को बधाई दी है।
राष्ट्रपति एक ट्वीट में कहा
भारत के पहले सौर मिशन, आदित्य-एल1 का प्रक्षेपण Aditya-L1 Mission एक ऐतिहासिक उपलब्धि है जो भारत के स्वदेशी अंतरिक्ष कार्यक्रम को एक नए पथ पर ले जाती है। इससे हमें अंतरिक्ष और खगोलीय घटनाओं को बेहतर ढंग से समझने में मदद मिलेगी। मैं वैज्ञानिकों और इंजीनियरों को बधाई देती हूं। इस असाधारण उपलब्धि के लिए व मिशन की सफलता के लिए मेरी शुभकामनाएँ।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारत के प्रथम सौर मिशन, Aditya-L1 Mission के सफल प्रक्षेपण के लिए इसरो के वैज्ञानिकों और इंजीनियरों को बधाई दी है।
प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट में कहा;
चंद्रयान-3 की सफलता के बाद भारत ने अपनी अंतरिक्ष यात्रा जारी रखी है। भारत के प्रथम सौर मिशन, Aditya-L1 Mission के सफल प्रक्षेपण के लिए इसरो के हमारे वैज्ञानिकों और इंजीनियरों को बधाई। संपूर्ण मानवता के कल्याण के लिए ब्रह्मांड की बेहतर समझ विकसित करने के क्रम में निरंतर हमारे वैज्ञानिक प्रयास चलते रहेंगे।”

Tek Raj
संस्थापक, प्रजासत्ता डिजिटल मीडिया प्रजासत्ता पाठकों और शुभचिंतको के स्वैच्छिक सहयोग से हर उस मुद्दे को बिना पक्षपात के उठाने की कोशिश करता है, जो बेहद महत्वपूर्ण हैं और जिन्हें मुख्यधारा की मीडिया नज़रंदाज़ करती रही है। पिछलें 8 वर्षों से प्रजासत्ता डिजिटल मीडिया संस्थान ने लोगों के बीच में अपनी अलग छाप बनाने का काम किया है।

Latest News

Kullu News: पर्यटक ने होटल कर्मचारी पर चाकू से किया हमला

Kullu News: हिमाचल में एक पर्यटक ने होटल के...

Bilaspur News: टोल प्लाजा पर ट्रक ने पांच वाहनों को मारी टक्कर, एक की दर्दनाक मौत

Bilaspur News: बिलासपुर में टोल प्लाजा पर पर्चियां लेने के...

KIPS के बच्चों का शूटिंग प्रतियोगिता में शानदार प्रदर्शन

कसौली। इंदिरा गांधी हिमाचल प्रदेश स्टेट स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स शिमला में...

Solan News: अखिल भारतीय उपभोक्ता कल्याण परिषद के हिमाचल प्रदेश अध्यक्ष बने अजय शर्मा

सोलन।‌ Solan News: नीति आयोग/बीआईएस/भारत सरकार/महाराष्ट्र सरकार/बीपीटी/226/नई दिल्ली द्वारा अखिल...

Darjeeling Train Accident: कंचनजंगा एक्सप्रेस मालगाड़ी से टकराई, राहत कार्य जारी

Darjeeling Train Accident: पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग जिले में...

Dharmendra Pradhan on NEET Update: शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने माना NEET परीक्षा में गड़बड़ी हुई

प्रजासत्ता नेशनल डेस्क| Dharmendra Pradhan on NEET Update: केंद्रीय शिक्षा मंत्री...

Himachal Weather: हिमाचल प्रदेश में गर्मी का प्रकोप: 40 डिग्री के पार पहुंचा तापमान

Himachal Weather: हिमाचल प्रदेश में गर्मी का प्रकोप लगातार...

Sirmour News: सिरमौर में दुखद घटना: पेड़ से लटके मिले युवक-युवती के शव

नाहन| Sirmour News: सिरमौर जिला में एक बार फिर दुखद...

Solan News: सरकार ने सोलन नगर निगम में किया गलत :- संदीपनी

शिमला | Solan News: भाजपा प्रवक्ता संदीपनी भारद्वाज ने कहा...

More Articles

Darjeeling Train Accident: कंचनजंगा एक्सप्रेस मालगाड़ी से टकराई, राहत कार्य जारी

Darjeeling Train Accident: पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग जिले में एक भयानक हादसा हुआ है। कंचनजंगा एक्सप्रेस ट्रेन को एक मालगाड़ी ने टक्कर मार दी...

Dharmendra Pradhan on NEET Update: शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने माना NEET परीक्षा में गड़बड़ी हुई

प्रजासत्ता नेशनल डेस्क| Dharmendra Pradhan on NEET Update: केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने NEET पेपर लीक मामले में पहली बार गड़बड़ी की बात मानी है।...

पाकिस्तान की ओर से बढ़ता आतंकवाद भारत पाकिस्तान संबंधों में सुधार के लिए एक मुख्य समस्या :- अजय विसारिया

प्रजासत्ता ब्यूरो | कसौली: पाकिस्तान की ओर से बढ़ता आतंकवाद भारत पाकिस्तान संबंधों में सुधार के लिए एक मुख्य समस्या बन जाता है। पकिस्तान की...

हथियारों में आत्मनिर्भर बने भारत, विदेशों को भी करे निर्यात :- कमल डावर

प्रजासत्ता ब्यूरो | कसौली : अगर भारत के खिलाफ चीन और पाकिस्तान अलग-अलग या संयुक्त रूप से है, तो देश को मिलिट्री उपकरण, प्लेटफॉर्म, आर्टलरी,...

PM Kisan Nidhi : मोदी सरकार का पहला निर्णय, किसानों को सम्मान निधि की सौगात

PM Kisan Nidhi 17th installment: प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने तीसरी बार प्रधानमंत्री के रूप में शपथ लेने के बाद, पीएम किसान निधि की 17वीं...

Milk Prices Hikes in India: अमूल दूध की कीमतों में वृद्धि: जानिए नए दाम

Milk Prices Hikes in India: गुजरात को-ऑपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन (GCMMF) ने अमूल गोल्ड, अमूल शक्ति और अमूल फ्रेश दूध की कीमतों में वृद्धि...

DELHI LIQUOR SCAM: सीएम केजरीवाल ने किया सरेंडर, कोर्ट ने 5 जून तक भेजा जेल

DELHI LIQUOR SCAM: दिल्ली शराब निति घोटाला मामले में फंसे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोर्ट में आज यानी रविवार को सरेंडर कर दिया है।...

Adani Group ने Paytm में हिस्सेदारी खरीदने की खबर को बताया झूठा

Adani Group called the news of buying Paytm false: अदाणी समूह द्वारा पेटीएम में हिस्सेदारी खरीदने की खबरों के बीच अदाणी समूह ने बुधवार...

Liquor Policy Case: शराब नीति मामले में मनीष सिसोदिया को झटका

Liquor Policy Case: दिल्ली शराब नीति मामले में मंगलवार (21 मई) को मनीष सिसोदिया को बड़ा झटका लगा है। Delhi Liquor Policy Case में...