Lok Sabha Election 2024: Himachal की चारों लोकसभा सीटों पर कांग्रेस मजबूत, एकजुट होकर लड़ेंगे चुनाव :-कांग्रेस

Lok Sabha Election 2024: Himachal की चारों लोकसभा सीटों पर कांग्रेस मजबूत, एकजुट होकर लड़ेंगे चुनाव :-कांग्रेस
Lok Sabha Election 2024: Himachal की चारों लोकसभा सीटों पर कांग्रेस मजबूत, एकजुट होकर लड़ेंगे चुनाव :-कांग्रेस

प्रजासत्ता नेशनल डेस्क |
Lok Sabha Election 2024: हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू और राज्य के अन्य पार्टी नेताओं ने दिल्ली में कांग्रेस के शीर्ष नेताओं के साथ बैठक कर लोकसभा चुनाव 2024 (Lok Sabha Election 2024) की रणनीति पर चर्चा की। बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे, पार्टी के पूर्व प्रमुख राहुल गांधी और के. सी. वेणुगोपाल और हिमाचल प्रभारी राजीव शुक्ला के अलावा अन्य नेता भी मौजूद थे।

बैठक के बाद मीडिया से बात करते हुए हिमाचल प्रभारी राजीव शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि बैठक में लोकसभा चुनाव 2024 में हिमाचल के रणनीति पर चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि बैठक में चर्चा हुई की पार्टी एकजुट होकर हिमाचल में सरकार की उपलब्धियों और भाजपा के खिलाफ विभिन्न मुद्दों पर जन जन तक पहुंचा कर चुनाव लड़ेगी और चारों लोकसभा सीटों पर चुनाव जीतेगी।

इसके अलावा प्रदेशाध्यक्ष प्रतिभा सिंह ने कहा कि आज बैठक में अलग मुदों पर चर्चा हुई। जल्द से जल्द हमारे लोकसभा चुनाव के उम्मीदवारों के नाम तय हो जाए। उसके साथ ही हम चुनावी मैदान में उतर जायेंगे और चारों सीटें जीतेंगे।

मीडिया से बात करते हुए सीएम सुखविंदर सुक्खू ने कहा कि बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे, पार्टी के पूर्व प्रमुख राहुल गांधी के साथ चर्चा हुई कि किन मुद्दों को लेकर हिमाचल में चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि जब भी चुनाव होंगे कांग्रेस पार्टी चारों सीटें जीतेंगे। कांग्रेस पार्टी पिछले और अगामी नए मुद्दों के साथ चुनाव लड़ेगी। सीएम सुक्खू ने कहा कि हम जनता को बताएँगे कि कैसे आपदा के समय हिमाचल से सौतेला बर्ताव हिमाचल के साथ हुआ।

इसके बाद मीडिया से बात करते हुए उप मुख्यमंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि हिमाचल के पिछले चुनाव में प्रियंका गाँधी और राजीव शुक्ला का अहम योगदान रहा था। उन्होंने चुनाव को लेकर विशेष रणनीति तैयार की और चुनाव में डट कर प्रचार किया जिससे हिमाचल में हमारी सरकार बनी। जिसके बाद हमारी सरकार ने 1 साल का कार्यकाल पूरा किया है। इस दौरान सबसे बड़ी त्रासदी हिमाचल प्रदेश में आई जिसमें 12000 करोड़ का नुकसान हुआ उसके बाद भी हमने हर हिमाचली को राहत पहुंचाने का हर संभव प्रयास किया।

उन्होंने कहा कि हमें आपदा के समय केंद्र की तरफ से मदद नहीं मिली। इसके अलावा कोई आर्थिक पैकेज भी नहीं मिला। पूर्व की भाजपा सरकार ने हिमाचल पर भारी भरकम कर्ज लाद दिया। उन्होंने कहा कि केंद्र की तरफ से हमारी सरकार पर कर्ज लेने की सीमाएं लगा दी गई है। जीएसटी का कंपनसेशन बंद कर दिया गया। विभिन्न संसाधनों के माध्यम से जो पैसा हिमाचल को मिलना चाहिए था उसको रोक दिया गया है, बावजूद इसके फिर भी हिमाचल की सरकार ने लोगों के लिए अच्छा काम किया है। उन्होंने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर हम पार्टी के नेताओं के साथ मिलकर नई रणनीति बनाएंगे और चुनाव में जीत हासिल करेंगे।

केंद्र ने Himachal को दीं 14 सिंचाई परियोजनाएँ और राष्ट्रीय हाइड्रोलॉजी प्रोजेक्ट, Anurag Thakur ने जताया आभार

Himachal News: मुख्यमंत्री सुक्खू ने 6 बड़े कार्यालयों को सरकारी इमारतों में स्थानांतरित करने दिए निर्देश

Himachal News : हिमाचल में रिटायर्ड पटवारी-कानूनगो-नायब तहसीलदार को दोबारा नौकरी

Lok Sabha Election 2024: Himachal