Chaitra Navratri 2024: चैत्र नवरात्रि 2024 कब है? तिथि, शुभ मुहूर्त और महत्व

Chaitra Navratri 2024 Date: नवरात्र के 9 दिनों तक मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा और व्रत किया जाता है। हर साल चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से लेकर नवमी तक चैत्र नवरात्र का त्योहार मनाया जाता है। नवरात्र में जगत जननी आदिशक्ति मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा-अर्चना की जाती है।

Chaitra Navratri 2024 Date: हिन्दू धर्म में चैत्र नवरात्रि पर्व को बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है। प्रत्येक वर्ष दो नवरात्रि पर्व मनाएं जाते हैं एक चैत्र मास में और दूसरा शारदीय मास में। हिन्दू पंचांग के अनुसार ( Chaitra Navratri 2024 Date ) इस बार चैत्र शुक्ल की प्रतिपदा तिथि 8 अप्रैल को देर रात 11 बजकर 50 मिनट से शुरू होगी और अगले दिन 9 अप्रैल को रात 08 बजकर 30 मिनट पर समाप्त होगी।

उदया तिथि के अनुसार चैत्र नवरात्रि की शुरुआत इस बार 9 अप्रैल से होगी। नवरात्रि के पहले दिन घटस्थापना की जाती है। इसे कलश स्थापना भी कहते हैं। इस दिन घटस्थापना के साथ अखंड ज्योति भी जलाई जाती है। यह पूरे नौ दिनों तक लगातार जलाई जाती है। इसे लगातार जलाने से माता रानी की कृपा बनी रहती है और जीवन के सारे कष्‍ट दूर होते हैं।

चैत्र नवरात्र 2024 कैलेंडर (Chaitra Navratri 2024 Calendar)
09 अप्रैल 2024 – घटस्थापना, मां शैलपुत्री की पूजा
10 अप्रैल 2024 – मां ब्रह्मचारिणी की पूजा
11 अप्रैल 2024 – मां चंद्रघंटा की पूजा
12 अप्रैल 2024 – मां कुष्मांडा की पूजा
13 अप्रैल 2024 – मां स्कंदमाता की पूजा
14 अप्रैल 2024 – मां कात्यायनी की पूजा
15 अप्रैल 2024 – मां कालरात्रि की पूजा
16 अप्रैल 2024 – मां महागौरी की पूजा
17 अप्रैल 2024 – मां सिद्धिदात्री की पूजा, राम नवमी

चैत्र नवरात्र का महत्व
नवरात्र के 9 दिनों तक मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा और व्रत किया जाता है। इस दौरान मां दुर्गा को प्रसन्न करने के लोग भजन-कीर्तन करते हैं। हिंदू मान्यता के अनुसार, नवरात्र के दौरान मां दुर्गा की विशेष पूजा करने से साधक को सुख और समृद्धि की प्राप्ति होती है। साथ ही मां दुर्गा की आशीर्वाद प्राप्त होता है।

चैत्र नवरात्रि में रखें इन बातों का ध्यान (Chaitra Navratri 2024 Niyam )

  • चैत्र नवरात्रि में मां दुर्गा को प्रसन्न करने के लिए भक्त व्रत रखते हैं और पूरी श्रद्धा के साथ उनकी पूजा-अर्चना करते हैं.। इन दिनों कुछ नियमों का पालन करना जरूरी माना जाता है।
  • नवरात्रि शुरू होने से पहले पूरे घर की अच्छे से सफाई कर लें। नवरात्रि के दिनों में घर में गंदगी नहीं रहनी चाहिए।
  • चैत्र नवरात्रि के दिनों में शारीरिक स्वच्छता का भी विशेष ध्यान रखा जाता है। इस दौरान बाल और नाखूट काटना वर्जित माना जाता है। सफाई से जुड़े सारे कार्य आपको नवरात्रि शुरू होने से पहले ही कर लेने चाहिए।
  • माता रानी के लिए पूजा के लिए आवश्यक सामग्री इकट्ठा कर लें।
  • चैत्र नवरात्रि के पहले दिन सुबह जल्दी उठकर स्नान करना चाहिए। इसके बाद स्वच्छ कपड़े पहनकर घर में कलश स्थापित करना चाहिए।
  • व्रत के दौरान घर में तामसिक भोजन बिल्कुल भी नहीं बनाना चाहिए। घर का माहौल शांत, सात्विक और सकारात्मक होना चाहिए. व्रत के दौरान केवल फलाहार करना चाहिए।
  • चैत्र नवरात्रि में जिस जगह पवित्र कलश की स्थापना की जाती है और जहां अखंड ज्योति जलाई जाती है, उस स्थान को कभी भी खाली नहीं छोड़ना चाहिए।
  • अखंड दीप जलाने वाली जगह पर बैठकर भजन कीर्तन करना चाहिए।
  • चैत्र नवरात्रि में दिन में सोने से बचना चाहिए। नवरात्रि में सारे दिन देवी की आराधना करनी चाहिए।
  • नवरात्रि के दिनों में गरीबों और जरूरतमंदों को दान करना चाहिए। इससे दुर्गा माता जल्द प्रसन्न होती हैं और भक्तों पर अपनी कृपा बरसाती हैं।

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है।

Bihar Board 10th Result 2024: बिहार बोर्ड 10वीं परिणाम को लेकर आज हो सकती है बड़ी घोषणा

Suryakumar Yadav congratulated Riyan Parag: सूर्यकुमार ने रियान पराग को धुआंधार अर्धशतक की बधाई देते हुए कही ये बड़ी बात…

राजस्थान रॉयल्स ने रियान पराग और गेंदबाजों के दम पर दिल्ली कैपिटल्स को 12 रन से हराया
Petrol Diesel Price Today: इन जगहों पर क्या सस्ता हुआ है पेट्रोल-डीजल?

Land Sliding in Medi Una : ऊना से बड़ी ख़बर..! श्रद्धालुओं पर लैंडस्लाइड के कारण पहाड़ी से पत्थर गिरने से दो की मौत सात घायल

Tek Raj
संस्थापक, प्रजासत्ता डिजिटल मीडिया प्रजासत्ता पाठकों और शुभचिंतको के स्वैच्छिक सहयोग से हर उस मुद्दे को बिना पक्षपात के उठाने की कोशिश करता है, जो बेहद महत्वपूर्ण हैं और जिन्हें मुख्यधारा की मीडिया नज़रंदाज़ करती रही है। पिछलें 8 वर्षों से प्रजासत्ता डिजिटल मीडिया संस्थान ने लोगों के बीच में अपनी अलग छाप बनाने का काम किया है।

Latest News

Himachal News: ऊना के घालूवाल में 82 झुग्गियां जलकर हुई राख..!

Himachal News: ऊना जिला के उपमंडल हरोली के तहत...

Himachal Weather News: Heatwave Alert Issued, No Relief Until May 25

Himachal Weather News: Himachal Pradesh is bracing for a...

Himachal News: सीएम सुक्खू बोले, बड़सर में पकड़े गए 55 लाख रुपये बिकाऊ विधायकों के..

हमीरपुर। Himachal News : मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने...

Liquor Policy Case: शराब नीति मामले में मनीष सिसोदिया को झटका

Liquor Policy Case: दिल्ली शराब नीति मामले में मंगलवार...

Solan News: समाजसेवी ओम आर्य ने युवाओं को दी सीख,, नशे से दूर होकर खेलों में ध्यान लगाएं…

Solan News: कसौली विधानाभा के अंतर्गत जोधपुर में आयोजित...

More Articles

Parshuram Jayanti 2024: परशुराम जयंती का महत्व क्यों है, जानें तिथि और शुभ मुहूर्त..!

Parshuram Jayanti 2024: भगवान परशुराम ने ब्राह्मण ऋषि के घर में जन्म लिया था। सनातन धर्म में भगवान परशुराम को श्रृष्टि के पालनहार भगवान...

Manki Point Hanuman Temple Kasauli : संजीवनी बूटी लाते समय कसौली की इस ऊंची पहाड़ी पर टिका था हनुमानजी का दायां पांव

प्रजासत्ता| Manki Point Hanuman Temple Kasauli : प्राचीन समय से हिमाचल को देवताओं का स्थान "देवभूमि" के नाम से जाना जाता है। हिमालय पर्वत की...

Navratri 2024 Wishes in Hindi: इस नवरात्रि को बनाएं खास, अपनों को भेजें ये बधाई संदेश

Navratri 2024 Wishes in Hindi: चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि यानि 09 अप्रैल 2024 से हिंदू नव वर्ष की शुरुआत होने...

Famous Devi Temples Of Himachal: हिमाचल के लोकप्रिय देवी मंदिर, नवरात्रि के दौरान करें मां के इन प्रसिद्ध मंदिरों के दर्शन

Famous Devi Temple Of Himachal: कुछ दिनों बाद नवरात्रि ( Navratri 2024 ) की शुरुआत होने वाली है इस दौरान हिन्दू धर्म में  देवी...

शिव की महिमा अपरंपार है.. आचार्य हेमंत भारती

कुनिहार | शिव तांडव गुफा कुनिहार के प्रांगण में आयोजित हो रही 11 दिवसीय महाशिव पुराण कथा के आज तीसरे दिन कथावाचक आचार्य हेमंत भारती...

Makar Sankranti 2024: मकर संक्रांति पर बन रहा 77 साल के बाद बहुत ही शुभ योग, सूर्यदेव का मिलेगा आशीर्वाद..!

Makar Sankranti 2024 Date Time And Shubh Yog: भारत में नए साल का प्रथम पर्व मकर संक्रांति ही माना जाता है। इस साल मकर...

Vastu Tips: जानिए! मकान की नींव में क्यों डाले जाते हैं कलश और चांदी से बना सांप?

Vastu Tips for Home: हिंदू पौराणिक मान्यताओं के अनुसार घर बनाते समय नींव में कलश या चांदी के नाग-नागिन बनवाकर डाले जाते हैं। मकान...

हल्दी के ये चमत्कारी टोटके: घर-परिवार की हर परेशानी को करेंगे दूर

Haldi Ke Totke: हमारे घर की रसोई में कुछ ऐसी चीजें होती है, जो सिर्फ खाने में स्वाद नहीं बढ़ाती है, बल्कि कुछ ज्योतिष...

Pitru Paksha 2023: इस दिन से शुरू होंगे पितृपक्ष, जानें नियम और विधि

प्रजासत्ता | Pitru Paksha 2023: पूर्वजों को समर्पित साल 15 दिन पितृ पक्ष कहलाते हैं। पितृ पक्ष पूर्वजों के प्रति सम्मान प्रकट करने का समय...